Monday, July 15, 2024
Homeवेब सिरीज़Gullak Season 4 Review: शानदार कहानी के साथ मिश्रा परिवार की वापसी,...

Gullak Season 4 Review: शानदार कहानी के साथ मिश्रा परिवार की वापसी, यहां रह गई कमी


साल 2019 में TVF ने अपनी सबसे शानदार सीरीज गुल्लक को ऑडियंस के सामने पेश किया था। उस समय ओटीटी प्लेटफॉर्म पर दिल खुश करने वाली कहानियां कम ही मौजूद थीं। ऐसे में गुल्लक आई और कमाल कर गई। एक साधारण सा मिश्रा परिवार, दो बेटे, पुराने घर, रोटी के डब्बे, कुकर की बजती सीटी की आवाज से भरी किचन और मिस्टर एंड मिशन मिश्राइन, ये थी गुल्लक। अब इस सीरीज का चौथा सीजन सोनी लिव पर प्रीमियर हो गया है जो शानदार है।

मिश्रा परिवार की नई मुसीबत

गुल्लक सीजन 4 अन्य तीनों सीजन से थोड़ा अलग है। अब स्कूल और नौकरी वाले बच्चे अन्नू और अमन बड़े हो गए हैं। इस सीजन में किरदारों की थोड़ी समझदारी ज्यादा दिखती है। अन्नू मिश्रा की जिंदगी जॉब और प्यार की तरफ आगे बढ़ती दिखेगी तो दूसरी तरफ अमन अब जवानी की दहलीज पर कदम रख चुके हैं। इस सीरीज में ढोंगी मुद्दे को उठाया गया है जब माता-पिता बच्चों की परवरिश में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते। गुल्लक 4 पीढ़ी, शांति और संतोष मिश्रा की बच्चों को लेकरमैट से घिरी हुई है। लेकिन पड़ोसन बिट्टू की मम्मी की एंट्री हर उस सीन को खास बनाती है जिसमें वो नजर आती हैं।

अभिनेता की परफॉरमेंस

गुल्लक सीजन 4 में माता-पिता की उन भूमिकाओं को दिखाया गया है जब वो मेहनत करने के बाद भी असफल दिखते हैं। लेकिन परिवार अनेक प्रवेशकों से एक दूसरे के साथ खड़ा होता है कि अंत में हर परेशानी छोटी दिखती है। सीरीज में घर के मुखिया संतोष मिश्रा का किरदार निभाने वाले जमील खान ने अपने परफोरमेंस से एक बार फिर खुश कर दिया है। आम घरों की मम्मियों की तरह बच्चों के पीछे लगी माँ की शांति गीतांजलि कुलकर्णी से खुद को जोड़ना मुश्किल नहीं होगा। बड़े बेटे अन्नू का किरदार वैभव राज गुप्ता ने निभाया है जिनके मूल बाल उनकी पहचान बन गई है। अमन मिश्रा के किरदार में हर्ष मय्यर हैं। इस सीरीज की जान तो बिट्टू की मम्मी ही हैं, अभिनेत्री सुनीता राजवर ने निभाई है। इस सीजन में एक्ट्रेस हेली शाह की एंट्री भी हुई है।

नये लेखक

गुल्लक सीजन 4 की ये कहानी नए लेखक विदित त्रिपाठी ने लिखी और श्रेयांश पांडे ने बनाई है। लेकिन कहीं भी ऐसा महसूस नहीं होता कि ये सीजन पिछले गुलेल से अलग है। इस सीरीज में भी कई ऐसे सीन नजर आए हैं जब मिश्रा परिवार की भावनाएं कमजोर दिखती हैं। लेकिन ये ड्रामा नहीं लगता। इस सीरीज में कलाकारों के बीच जबरदस्त केमिस्ट्री और ज्यादा खास बनाया गया है।

कमियां और खासियत

गुल्लक की खासियत यही है कि मेकर्स ने सीरीज के पांच एपिसोड बनाकर दर्शकों को कहानी को आगे जानने वाले मोड़ पर छोड़ दिया है। वहीं अगर कमियों की बात करें तो मेकर्स को चार लोगों के मिश्रा परिवार की दुनिया को थोड़ा और बढ़ाना होगा। नए किरदारों की एंट्री जैसे इस सीजन में हेली शाह जो अन्नू की बॉस का किरदार निभा रही हैं। अमन का मित्र सूर्या नारायण। ऐसे पात्रों की सीरीज की जरूरत है।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments